अमीषा पटेल पर करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी का आरोप, हाई कोर्ट ने 2 हफ्ते में मांगा जवाब

344 Views
Read Time:3 Minute, 29 Second

अमीषा पटेल पर एक एंटरटेनमेंट कंपनी के प्रोपराइटर ने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। झारखंड हाईकोर्ट में याचिका पर सुनवाई के दौरान बताया गया कि ऐक्‍ट्रेस ने जो चेक दिया था वह भी बाउंस हो गया है। कोर्ट ने दो हफ्ते के भीतर दोनों पक्षों से जवाब सौंपने को कहा है।

बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस अमीषा पटेल पर करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगा है। मामला झारखंड हाईकोर्ट में है और अदालत ने सुनवाई के बाद ऐक्‍ट्रेस और साथ ही याचिका दायर करने वाले शख्‍स को 2 हफ्तों में लिख‍ित जवाब देने को कहा है। यह मामला फिल्‍म बनाने के नाम पर करोड़ों रुपये लेने, फिल्‍म नहीं बनने पर पैसे वापस नहीं करने और इसके साथ ही चेक बाउंस का है।

इस मामले में एक याचिका झारखंड हाई कोर्ट दायर की गई थी। जिस पर सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने मामले की गंभीरता को देखते हुए 2 सप्ताह में लिखित पक्ष रखने का निर्देश दिया है।
झारखंड हाई कोर्ट के न्यायाधीश आनंद सेन की अदालत में याचिका पर सुनवाई हुई।

जस्‍ट‍िस आनंद सेन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामले पर सुनवाई की। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता और सरकार के अधिवक्ता भी वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए ही कोर्ट से जुड़े। अमीषा पटेल पर आरोप है कि उनकी कंपनी ने फिल्म बनाने के नाम पर ढाई करोड़ रुपये लिए। लेकिन जब फिल्‍म नहीं बनी तो पैसे लौटाए भी नहीं।

कोर्ट में दायर की गई याचिका के मुताबिक, मामला 2017 का है। हरमू हाउसिंग कॉलोनी के एक कार्यक्रम के दौरान अजय कुमार सिंह और अमीषा पटेल की मुलाकात हुई। इसी दौरान फिल्म ‘देसी मैजिक’ बनाने के नाम पर अजय कुमार सिंह ने ढाई करोड़ रुपये अमीषा पटेल के खाते में ट्रांसफर कर दिए। अजय, लवली वर्ल्‍ड एंटरटेनमेंट के प्रोपराइटर हैं। फिल्म नहीं बनाने और पैसे वापस नहीं होने के बाद अजय सिंह ने निचली अदालत में शिकायतवाद दर्ज की

बाउंस हो गया अमीषा पटेल का चेक
अपनी श‍िकायत में अजय कुमार सिंह ने आरोप लगाया है कि अमीषा पटेल ने उनके साथ धोखाधड़ी की है। फिल्म नहीं बनने पर उन्होंने पैसे की मांग की थी। ऐक्‍ट्रेस की ओर से उन्हें ढाई करोड़ रुपये का एक चेक दिया था, जो बाउंस हो गया। हाई कोर्ट ने अब मामले की अगली सुनवाई 2 हफ्ते बाद करने के निर्देश दिए हैं।

0 0

Next Post

शिक्षा तभी सार्थक है,जब वह सृजनात्मक हो - अनिल जैन

Fri Feb 26 , 2021
श्री अग्रसेन कन्या पी जी कॉलेज,वाराणसी के परमानंदपुर परिसर में मनोविज्ञान विभाग द्वारा पोस्टर/मॉडल एवम् क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कोविड -19 का हमारे जीवन के विभिन्न पक्षों पर पड़ने वाले प्रभाव से संबंधित पोस्टर और मॉडल प्रदर्शनी का बहुत ही भव्य आयोजन किया गया,जिसमें मनोविज्ञान विषय की बी […]

You May Like

मुख्य समाचार