‘बंदर मारा गया’: धनोआ ने ऐसे दी थी डोभाल को जानकारी, जानिए बालाकोट स्‍ट्राइक की पूरी कहानी

332 Views
Read Time:3 Minute, 38 Second

नई दिल्‍ली: बालाकोट एयर स्‍ट्राइक की आज दूसरी वर्षगांठ हैं। हालांकि इस ऑपरेशन को काफी गुप्‍त रखा गया और कुछ ही चुनिंदा लोगों को इसके बारे में जानकारी थी। 26 फरवरी, 2019 को 3.45 बजे उस समय के एयर चीफ बीएस धनोआ ने एक विशेष RAX नंबर पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को टेलीफोन कॉल किया। RAX एक अल्ट्रा-सिक्योर फिक्स्ड लाइन नेटवर्क है। उन्‍होंने अजीत डोभाल से कहा कि बंदर मारा गया है।

संदेश का मतलब था कि भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के भीतर घुसकर बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) के आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर को नष्‍ट कर दिया। धनोआ ने तत्कालीन रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और सचिव (अनुसंधान और विश्लेषण विंग) अनिल धस्माना को भी इसी तरह का कॉल करके जानकारी दी। इसके बाद एनएसए डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सूचित किया।

14 फरवरी, 2019 को पुलवामा में आत्मघाती हमले के जवाब में भारत ने यह कार्रवाई की थी, जिसमें 40 सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे। अब दो साल बाद ऑपरेशन का अधिक जानकारी सामने आ रही है, जिसमें उसका नाम भी शामिल है। इसके साथ ही ऑप्टिकल मार्गदर्शन के साथ एक मिसाइल की विफलता भी सामने आई है।

बालाकोट एयर स्‍ट्राइक में शामिल शीर्ष अधिकारियों ने अंग्रजी अखबार एचटी को बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों को धोखा देने के लिए इसके कोड नाम ”बंदर” को जानबूझकर चुना गया था। भारतीय पक्ष को उम्मीद थी कि भावलपुर के JeM मुख्यालय में आतंकवादी समूह के प्रमुख अजहर मसूद परिसर के भीतर सुरक्षित रूप से रह रहा है।

स्‍ट्राइक से पहले पाकिस्‍तान को धोखे देने के लिए भारतीय लड़ाकू विमानों की एक टुकड़ी को राजस्थान सेक्टर में पाकिस्तान वायु सेना को अपनी सारी फोर्स को ट्रांसफर करने के लिए मजबूर करने के लिए भावलपुर के आसमान पर रोकना पड़ा। परिणामस्वरूप जब भारतीय वायुसेना के उन्नत मिराज 2000 अपने स्पाइस 2000 बम गिराए, जोकि 90 किलोग्राम विस्फोटक से भरे हुए होंगे तो निकटतम पाकिस्तानी विमान भी 150 किलोमीटर दूर थे। भारतीय वायुसेना ने जानबूझकर 26 फरवरी को चुना, क्‍योंकि यह पूर्णिमा की अंतिम तिमाही थी और लड़ाकू विमानों ने सफलतापूर्वक पीर पंजाल पर्वतमाला के नीचे उड़ते हुए पाकिस्तानी राडार को धोखा दिया। अधिकारियों के अनुसार, सभी पांच बमों को 330 बजे आईएसटी या 300 बजे पाकिस्तानी समय में गिराया गया।

 

0 0

Next Post

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच Zomato ने लिया ये बड़ा फैसला

Fri Feb 26 , 2021
नई दिल्ली। देशभर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो रही वृद्धि की वजह से आम जनता की जेब पर बहुत बड़ा असर पड़ा है। कामकाजी इंसान के लिए अपने व्हीकल से ऑफिस आना-जाना करना बहुत मुश्किल हो चुका है। ऐसे में फूड कंपनी जोमैटो (Zomato) ने अपने डिलीवरी […]

मुख्य समाचार