CBSE 12th result 2020 updates : सीबीएसई 12वीं रिजल्ट जारी, ये रहा Direct Link

236 Views
Read Time:9 Minute, 25 Second

CBSE 12th result 2020  : सीबीएसई 12वीं रिजल्ट सोमवार को आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जारी कर दिया गया। इस वर्ष 88.78 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए जबकि पिछले वर्ष 83.40 फीसदी पास हुए थे। यानी इस बार रिजल्ट 5.38 % बेहतर रहा। लड़कियों का पास प्रतिशत 92.15 फीसदी और लड़कों का पास प्रतिशत 86.19 रहा। इस बार लड़कियां का रिजल्ट लड़कों से 5.96 % ज्यादा रहा। असाधारण परिस्थितियों के चलते इस बार सीबीएसई बोर्ड ने टॉपरों की लिस्ट जारी न करने का फैसला किया है। त्रिवेन्द्रम रीजन (97.67 फीसदी) का रिजल्ट सबसे अच्छा रहा जबकि पटना रीजन ( 74.57 फीसदी) का रिजल्ट सबसे खराब रहा। स्टूडेंट्स नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर रिजल्ट चेक कर सकते हैं। गौरतलब है कि सीबीएसई ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण 10वीं और 12वीं की शेष बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी थीं। सुप्रीम कोर्ट ने भी बोर्ड की मूल्यांकन योजना (असेसमेंट स्कीम) को मंजूरी दे दी थी। जो पेपर रद्द किए गए हैं, उनके मार्क्स इसी असेसमेंट स्कीम के आधार पर दिए गए हैं। 

लखनऊ की दिव्यांशी जैन को 100 फीसदी अंक
लखनऊ की दिव्यांशी ने इतिहास, अंग्रेजी, संस्कृत, भूगोल, अर्थशास्त्र और इंश्योरेंस जैसे विषयों में शत प्रतिशत अंक पाकर यह कीर्तिमान स्थापित किया है। दिव्यांशी जैन नवयुग रेडिएंस पब्लिक स्कूल की छात्रा हैं। उनके पिता राजेश प्रकाश जैन की गणेशगंज में दुकान है। सफलता को लेकर दिव्यांशी कहतीं है कि भले ही लोगों को इतिहास जैसे विषयों को पढ़ने और याद करने में दिक्कत होती है लेकिन, उन्होंने कभी विषयों को रटने को कोशिश भी नहीं की। इतिहास को कहानी के रूप में समझा। संस्कृत भी गणित के जैसे फार्मूले होते हैं। उनको याद किया। फिलहाल, दिव्यांशी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से बीए (ऑनर्स) की पढ़ाई करने का फैसला लिया है। अंग्रेजी, संस्कृत, भूगोल, अर्थशास्त्र, इंश्योरेंस, इतिहास सभी छह विषयों में दिव्यांशी के 100 में से 100 हैं।

सीबीएसई रिजल्ट 2020 की मुख्य बातें – 

डिजिलॉकर से डाउनलोड करें मार्कशीट और सर्टिफिकेट
– सीबीएसई स्टूडेंट्स अपनी डिजिटल मार्कशीट और सर्टिफिकेट डिजिलॉकर एप से डाउनलोड कर सकते हैं। एप डाउनलोड करने के बाद सीबीएसई रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, ओटीपी और 6 अंकों के रोल नंबर से लॉग इन करना होगा। डिजिलॉकर की डिटेल्स सीबीएसई द्वारा स्टूडेंट्स के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भी भेज दी गई है।

VRS सिस्टम से यूं चेक करें रिजल्ट
– अगर सीबीएसई की वेबसाइट काम नहीं कर रही है या आपके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है तो आप सीबीएसई रिजल्ट IVRS से चेक कर सकते हैं। अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो 24300699 पर फोन करें। और अगर आप देश के अन्य हिस्से में रहते हैं तो 011-24300699 पर कॉल करें। 

CBSE Results 2020: APP पर यूं चेक करें रिजल्ट
स्टूडेंट्स UMANG Mobile Platform और DigiResults से नतीजे चेक कर सकते हैं। आपको बता दें कि उमंग ऐप एंड्रायड, आईओएस, और विंडो बेस्ड स्मार्टफोन पर उपलब्ध है। वहीं डिजिरिजल्ट सिर्फ एंड्रायड मोबाइल ऐप है। इन एप्स को डाउनलोड कर आप रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

– इस बार स्कूल के हिसाब से रिजल्ट को देखें तो इस बार नवोदय विद्यालय से 98.70%, केंद्रीय विद्यालय से 98.62% और निजी स्कूलों से 88.22%  छात्र पास हुए हैं।

– त्रिवेन्द्रम रीजन का रिजल्ट सबसे बेहतर
इस बार त्रिवेन्द्रम रीजन का रिजल्ट सबसे बेहतर रहा है। यहां 97.67 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। दूसरे पर बेंगलुरु (97.05 फीसदी) और तीसरे पर चेन्नई (96.17 फीसदी) है। दिल्ली वेस्ट का रिजल्ट 94.61 फीसदी और दिल्ली ईस्ट का रिजल्ट 94.24 फीसदी रहा है। नोएडा रीजन का रिजल्ट 84.87 फीसदी, प्रयागराज का रिजल्ट 82.49 फीसदी, अजमेर का 87.60  फीसदी रहा। सबसे खराब रिजल्ट पटना रीजन (74.57 फीसदी) का रहा।

– कुल रिजस्टर्ड 1203595 छात्रों में से 1192961 ने परीक्षा दी थी। इनमें से 1059080 पास हुए हैं। 

– असाधारण परिस्थितियों के चलते इस बार सीबीएसई बोर्ड ने ICSE की तरह टॉपरों की लिस्ट जारी न करने का फैसला किया है। दोनों ही बोर्ड की मेरिट लिस्ट जारी नहीं हुई।

– एचआरडी मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सभी स्टूडेंट्स को ट्वीट कर बधाई दी है। 

क्या है असेसमेंट स्कीम फॉर्मूला, रद्द की गईं शेष परीक्षाओं के लिए कैसे दिए गए मार्क्स
सीबीएसई के मुताबिक असेसमेंट स्कीम के तहत बोर्ड परीक्षा के पिछले तीन पेपरों के औसत मार्क्स के आधार पर नंबर दिए गए हैं।  दूसरे शब्दों में कहें तो रद्द किए गए शेष पेपरों के मार्क्स उन पेपरों के एवरेज मार्क्स के आधार पर दिए गए हैं जो पहले ही हो चुके हैं। असेसमेंट फॉर्मूले के तहत जिनके 3 से अधिक पेपर हो चुके थे, उन्हें बेस्ट 3 के औसत अंकों पर बाकी सब्जेक्ट में नम्बर मिले हैं। जिनके 3 पेपर हुए हैं, उन्हें बेस्ट 2 की औसत पर नम्बर मिलेंगे।  

सीबीएसई 12वीं में ऐसे बहुत कम छात्र बचे हैं जिन्होंने केवल एक या दो पेपर दिए थे। ऐसे छात्र खासकर दिल्ली के थे। इन छात्रों का रिजल्ट उनके पेपर्स, इंटरनल असेसमेंट और प्रोजेक्ट रिपोर्ट के आधार पर दिया गया है। दिल्ली के इन कुछ छात्रों को भी असेमेंट रिजल्ट के बाद परीक्षा में बैठने का विकल्प दिया जाएगा। बशर्ते उन्होंने परीक्षा का विकल्प रिजल्ट से पहले चुना हो।

12वीं के छात्र अगर चाहें तो बाद में परीक्षा में बैठकर सुधार सकते हैं प्रदर्शन
अपने स्कोर को सुधारने के लिए 12वीं के स्टूडेंट्स को ऑप्शनल एग्जाम में बैठने का अवसर दिया जाएगा। अगर 12वीं का स्टूडेंट्स ऑप्शनल परीक्षा में बैठता है, तो इसी परीक्षा के मार्क्स को फाइनल स्कोर माना जाएगा। 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों को सुधार परीक्षा में शामिल होने का मौका नहीं मिलेगा। असेसमेंट स्कीम के तहत मिलने वाले अंक ही फाइनल माने जाएंगे।

10 जुलाई को जारी हुआ CISCE ICSE 10th, ISC 12th Result 2020
सीआईएससीई ने शुक्रवार को आईसीएसई 10वीं और आईएससी 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया। ICSE में 99.33 फीसदी स्टूडेंट्स और ISC में 96.84 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। इस बार बोर्ड ने मेरिट लिस्ट जारी नहीं की है। ICSE में इस वर्ष 2,07,902 बच्चों ने परीक्षा दी थी जिसमें से 2,06,525 पास हुए हैं। यानी ICSE में 99.33 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए।
ISC में इस वर्ष 88,409 बच्चों ने परीक्षा दी थी जिसमें से 85,611 पास हुए हैं। यानी ISC में 96.84 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं।   

1 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

DM वाराणसी की सख्ती का असर, की गयी यह कार्रवाई

Tue Jul 14 , 2020
वाराणसी। जिले में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिलाधिकारी ने नए निर्देश जारी किए हैं। नियमों को नहीं मानने के खिलाफ कुछ लोगों के ऊपर जिला प्रशासन की तरफ से कार्यवाही भी हुई है। बिना कारण घरों से निकलकर बाहर घूमने वालों के खिलाफ जुर्माना वसूला गया है। […]